12.4 C
Rudrapur
Tuesday, February 27, 2024
spot_img
spot_img

*Rudrapur” शहर में अलर्ट के दौरान घरों की छतों से एसएसपी के निर्देश पर भी नहीं हटाए ईंट-पत्थर, केस दर्ज; पढ़िए पूरी ख़बर…*

Must read

रुद्रपुर:- एसएसपी मंजूनाथ टीसी के निर्देश के बाद भी छतों से ईट पत्थर नहीं हटाए गए, जिसके बाद पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है, आपको बता दें की हल्द्वानी के बनभूलपुरा में हुई हिंसा के बाद पुलिस ने दो मकान मालिकों के खिलाफ बलवा करवाने की कोशिश के आरोप में केस दर्ज किया है। दोनों के घरों की छतों पर ड्रोन से निगरानी के दौरान ईंट-पत्थरों का जखीरा मिला और इंस्पेक्टर के निर्देश के बावजूद उसे हटाया नहीं गया….

 

रिपोर्ट: साक्षी सक्सेना 

शुक्रवार को जिलेभर की पुलिस हाई अलर्ट पर थी। रुद्रपुर में संवेदनशील क्षेत्रों में ड्रोन से निगरानी भी की गई थी। इस दौरान सीरगोटिया में दो घरों की छतों पर ईंट-पत्थरों के ढेर के साथ 10 से 15 लोग एकत्र मिले थे। बनभूलपुरा में हुई उपद्रव की घटना के बाद जहां जिले में हाई अलर्ट जारी हो गया था। वहीं जुम्मे की नमाज के चलते जब एसएसपी की मौजूदगी में ड्रोन कैमरा इलाके में घुमाया गया तो पाया कि सीर गोटिया स्थित दो घरों की छतों पर ईंट-पत्थरों का ढेर लगा हुआ था। जिस पर पुलिस ने दो मकान स्वामियों के खिलाफ कई धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

बताते चलें कि हल्द्वानी के बनभूलपुरा में धार्मिक स्थल पर अतिक्रमण हटाने के दौरान भड़के लोगों ने जमकर उपद्रव किया था। जिसको नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने गोलियां चलाई और कर्फ्यू लगाकर शांति व्यवस्था कायम रखने का प्रयास किया। घटना को लेकर जहां हल्द्वानी में तनाव की स्थिति थी।

वहीं ऊधमसिंह नगर में भी हाई अलर्ट जारी कर दिया था। शुक्रवार को जुमे की नमाज को लेकर पुलिस प्रशासन सक्रिय था और एसएसपी मंजूनाथ टीसी ने खुद मैदान में उतरकर स्थिति पर निगरानी शुरू कर दी थी। शुक्रवार को जब पुलिस ने नमाज स्थल सीरगोटिया इलाके में द्रोण कैमरे से निगहबानी शुरू की तो पाया कि सीरगोटिया के रहने वाले बुद्धन खां की छत पर ईंट-पत्थर आदि सामान रखा हुआ मिला और 10 से 15 लोग एकत्रित थे। जो पुलिस को देखकर वहां से निकल गए।

इसको लेकर पुलिस ने मकान स्वामी को ईंट-पत्थर हटाने का नोटिस दिया। मगर तीन घंटे का समय देने के बाद भी ईंट पत्थर नहीं हटाए गए। इसके अलावा वहां के रहने वाले शाहनवाज उर्फ शानू के घर की छत पर भी ईंट पत्थरों का ढेर लगा हुआ था और 10 से 15 लोग एकत्रित थे। मकान स्वामी को नोटिस देने के बाद भी जब छतों से ईंट-पत्थर नहीं हटाए गए तो पुलिस ने खुद ईंट-पत्थरों को हटाया और दारोगा नवीन बुधानी ने तहरीर देकर दोनों मकान स्वामियों के खिलाफ 153/188/148/511 आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

पुलिस का तर्क था कि ईंट पत्थरों के रखे होने की अफवाह से इलाके में तनाव की स्थिति पैदा हो सकती है। साथ ही बवाल होने पर ईंट पत्थर घातक साबित हो सकते हैं। जिसको लेकर नोटिस देने के बाद भी मकान स्वामियों ने गंभीरता से नहीं लिया और उनका इरादा नेक नहीं था।

spot_img
- Advertisement -spot_img

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img

Latest article