Wednesday, December 6, 2023
Home Uttarakhand *Uttarakhand" उन फूड डिलीवरी कंपनियों की अब खैर नहीं जो फूड डिलीवरी...

*Uttarakhand” उन फूड डिलीवरी कंपनियों की अब खैर नहीं जो फूड डिलीवरी के लिए भगवाती हैं बाइक तेज, जाती है टारगेट के चक्कर में जान; कंपनियों पर होगी कार्रवाई…..*

Uttarakhand” ऑनलाइन फूड सप्लाई कंपनियों के डिलीवरी बॉय तेज बाइक चलाकर टारगेट पूरा करने के कारण हादसे का शिकार हो रहे हैं। देहरादून में एक फूड डिलीवरी बॉय की मौत के बाद परिवहन विभाग ने कंपनियों को अल्टीमेटम दे दिया है। कहा है कंपनियों ने डिलीवरी बॉय को तेज गाड़ी चलाने को बाध्य किया और कोई हादसा होने की स्थिति में कंपनियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

 

 

देहरादून में करीब 1500 डिलीवरी बॉय कार्यरत हैं। आरटीओ प्रवर्तन शैलेश तिवारी ने मंगलवार को सभी ऑनलाइन फूड डिलीवरी करने वाली कंपनियों के प्रतिनिधियों के साथ वार्ता की। कहा, प्रेम नगर के पास फूड डिलीवरी बॉय की सड़क दुर्घटना में मौत हो गई। कहा कि फूड डिलीवरी बॉय की सुरक्षा के सभी इंतजाम ऑनलाइन फूड सप्लाई कंपनियों की ओर से किए जाएं।

 

 

डिलीवरी बॉय अनिवार्य रूप से हेलमेट पहनें। हेलमेट पर पीछे रिफ्लेक्टर अवश्य लगाएं। डिलीवरी बॉय रात्रि में रिफ्लेक्टर युक्त जैकेट या शर्ट पहनें, जिससे रात्रि में अन्य वाहन चालकों को बाइक सवार डिलीवरी बॉय आसानी से दिख जाएं। डिलीवरी बॉय को फूड डिलीवरी करने के लिए तेज गति से गाड़ी चलाने के लिए बाध्य न किया जाए।

 

 

डिलीवरी बॉय की सूची मांगी गई

डिलीवरी बॉय गाड़ी चलाने के दौरान मोबाइल पर बात न करें। आवश्यक होने पर ब्लूटूथ या इयरफोन से बात करें। डिलीवरी बॉय के पास गाड़ी के सभी वैध प्रपत्र व लाइसेंस हों। कंपनी की ओर से बताया गया कि डिलीवरी बॉय की सुरक्षा के लिए कंपनी सभी आवश्यक कदम उठा रही है। कंपनी प्रतिनिधियों से डिलीवरी बॉय की सूची मांगी गई है।

 

केस एक- देहरादून में ऑनलाइन फूड सप्लाई कंपनी में बतौर डिलीवरी बॉय काम करने वाला युवक तुषार मलिक छह अक्तूबर की रात सुभारती अस्पताल झाझरा धर्मकांटे के पास हादसे का शिकार हो गया। बाइक सवार तुषार मलिक कुरावा थाना फुगाना जिला मुजफ्फरनगर का रहने वाला था। वह अज्ञात वाहन की चपेट में आ गया।

 

केस दो- नोएडा के सेक्टर-14-ए में कार ने डिलीवरी बॉय कौशल को टक्कर मार दी थी। कार उसे घसीटती हुई ले गई। ड्राइवर ने आगे जाकर कार रोकी। इटावा का रहने वाला कौशल नोएडा-दिल्ली के बीच फूड डिलीवरी का काम करता था।

 

 

केस तीन- दक्षिण-पूर्वी दिल्ली में फरीदाबाद हाईवे पर फूड डिलीवरी बॉय हादसे का शिकार हो गया था। हादसे में डिलीवरी बॉय की मौत हो गई। अज्ञात वाहन ने उसके सिर को कुचल दिया। युवक ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। हादसे का शिकार नरेंद्र उप्र के औरैया का रहने वाला था।

 

 

 

 

 

रिपोर्ट: साक्षी सक्सेना 

RELATED ARTICLES

Khatima” सर्राफा व्यापारी की गोली मारकर की गई हत्या मामले का पुलिस ने 8 घंटे में किया खुलासा, बीते मंगलवार नकाबपोश बदमाशों ने की...

Report- अनुज कुमार शर्मा खटीमा विकासखंड के दयूरी ग्राम में बीते दिन मंगलवार देर शाम को आराधना ज्वेलर्स के स्वामी नानकमत्ता निवासी रमेश रस्तोगी के...

*लाख कोशिशों के बाद रुद्रपुर प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल चुनाव स्थगित” अब फिर से होगी चुनाव की तैयारी: सुरमुख सिंह विर्क*

रूद्रपुर व्यापार मण्डल के चुनाव कुछ समय के लिए टले.. रूद्रपुर। व्यापार मण्डल रूद्रपुर इकाई के चुनाव कुछ समय के लिए स्थगित कर दिये गये...

*पढ़िए मजदूर ईश्वर साहू की कहानी… जिन्होंने छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में 7 बार के विधायक को हराया, हिंसा में गई थी बेटे की जान;...

पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव बहुत ही ज्यादा ऐतिहासिक और दिलचस्प रहे, अगर बात छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव की करें तो पहले कांग्रेस की...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

*पढ़िए कैसे बागेश्वर धाम पीठाधीश्वर आचार्य धीरेंद्र शास्त्री ने बढ़ाई Google, YouTube, Facebook और Twitter की मुश्किलें, क्या है पूरा मामला👉…*

इन दिनों विश्व प्रसिद्ध बाबा बागेश्वर यानी पंडित धीरेंद्र शास्त्री ने गूगल, यूट्यूब, फेसबुक, ट्विटर और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफार्म की मुश्किलें बढ़ा दी...

Khatima” सर्राफा व्यापारी की गोली मारकर की गई हत्या मामले का पुलिस ने 8 घंटे में किया खुलासा, बीते मंगलवार नकाबपोश बदमाशों ने की...

Report- अनुज कुमार शर्मा खटीमा विकासखंड के दयूरी ग्राम में बीते दिन मंगलवार देर शाम को आराधना ज्वेलर्स के स्वामी नानकमत्ता निवासी रमेश रस्तोगी के...

*लाख कोशिशों के बाद रुद्रपुर प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल चुनाव स्थगित” अब फिर से होगी चुनाव की तैयारी: सुरमुख सिंह विर्क*

रूद्रपुर व्यापार मण्डल के चुनाव कुछ समय के लिए टले.. रूद्रपुर। व्यापार मण्डल रूद्रपुर इकाई के चुनाव कुछ समय के लिए स्थगित कर दिये गये...

*पढ़िए मजदूर ईश्वर साहू की कहानी… जिन्होंने छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में 7 बार के विधायक को हराया, हिंसा में गई थी बेटे की जान;...

पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव बहुत ही ज्यादा ऐतिहासिक और दिलचस्प रहे, अगर बात छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव की करें तो पहले कांग्रेस की...

Recent Comments

Translate »