Wednesday, October 4, 2023
Home Uttarakhand बड़ी खबर: धामी सरकार जुटाएगी अब राज्य की एक एक इंच भूमि...

बड़ी खबर: धामी सरकार जुटाएगी अब राज्य की एक एक इंच भूमि का हिसाब, किया जाएगा पूरे राज्य का जीआईए मैप तैयार; पढ़िए पूरी ख़बर…

उत्तराखंड: धामी सरकार की लैंड जिहाद पर सख्ती के बाद लगातार प्रदेश के कई जिलों में ताबड़तोड़ कार्रवाई चल रही है बता दें की अब धामी सरकार अब प्रदेश की एक-एक इंच जमीन का हिसाब जुटाएगी। इसके लिए पहली बार आधुनिक तकनीक का सहारा लेते हुए प्रदेश की संपूर्ण भूमि का सर्वेक्षण किया जाएगा। इसके बाद पूरे प्रदेश का जीआईएस (भौगोलिक सूचना प्रणाली) से नक्शा तैयार किया जाएगा। आपको जानकारी के लिए बता दें की धामी सरकार की ओर से इसके लिए 150 करोड़ रुपये के बजट की व्यवस्था की गई है। उत्तराखंड राजस्व परिषद को इस काम के लिए नोडल एजेंसी बनाया गया है। प्रदेश में राज्य गठन के बाद से इस बात की जरूरत महसूस की जा रही थी कि संपूर्ण भूमि का डाटा इकट्ठा कर लिया जाए, लेकिन तमाम कोशिशों के बाद भी यह काम आगे नहीं बढ़ पाया।

 

आपको जानकारी के लिए ये भी बता दें की प्रदेश का अधिकांश भूभाग (नौ जिले) पर्वतीय होने के कारण तमाम जमीनें गोल खातों के विवाद में उलझी हैं। सरकार कई विकास योजनाओं को भूमि की अनुपलब्धता के कारण शुरू नहीं कर पा रही है। वहीं, कई विभागों के पास अपनी ही उपलब्ध भूमि का रिकॉर्ड मौजूद नहीं है। वहीं इन सब समस्याओं से पार पाने के लिए सरकार ने अब संपूर्ण भूमि का सर्वे कराने का निर्णय लिया है। इसके लिए मुख्य सचिव डॉ. एसएस संधु की अध्यक्षता में शासी निकाय का गठन किया गया है, जिसमें तमाम विभाग के अपने मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव, सचिव व विभागाध्यक्षों को विशेष आमंत्रित सदस्य बनाया गया है।

 

उत्तराखंड राजस्व परिषद को नोडल एजेंसी बनाया गया है, जो डिजिटल इंडिया लैंड रिकॉर्ड मॉर्डनाइजेशन प्रोग्राम (डीआईएलआरएमपी) के तहत राजस्व अभिलेखों में दर्ज भूमि का सर्वेक्षण करेगी। इसके साथ ही सभी सरकारी विभागों की भूमि का ब्योरा भी जुटाया जाएगा।

 

बता दें की प्रदेश में डिजिटल इंडिया लैंड रिकॉर्ड मॉर्डनाइजेशन प्रोग्राम के तहत प्रदेश की संपूर्ण भूमि के सर्वेक्षण का काम करीब दो साल में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। मुख्य सचिव की ओर से आदेश निर्गत होने के बाद अब आरएफटी टेंडरिंग की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। सर्वे का काम एरियल लिडार (लाइट डिटेक्शन एंड रेंजिंग) तकनीक से किया जाएगा। यह सर्वे की एरियल मैपिंग तकनीक है, जो धरती की सतह से कैलिब्रेटेड लेजर रिटर्न का उपयोग करती है और ऑन-बोर्ड पोजिशनल और आईएमयू सेंसर से लैस जीपीएस-निगरानी वाले विमान के माध्यम से पूरी की जाती है।

 

 

वहीं राज्य सरकार की ओर से सर्वेक्षण के काम के लिए 150 करोड़ रुपये की व्यवस्था की गई है। पहली किस्त के रूप में करीब 30 करोड़ रुपये शासन की ओर से जारी कर दिए गए हैं। प्रदेश में संपूर्ण भूमि का सर्वे होने और जीआईएस मैप तैयार हो जाने के बाद भूमि विवाद से संबंधी मसलों को हल करने में मदद मिलेगी। इसके साथ ही प्लानिंग के स्तर पर सरकार को निर्णय लेने में आसानी होगी। हर भूमि का भू आधार नंबर (यूएलआईपीएन) तैयार होगा

 

बता दें चंद्रेश यादव, आयुक्त एवं सचिव, उत्तराखंड राजस्व परिषद ने कहा की प्रदेश में संपूर्ण भूमि के सर्वेक्षण के काम के लिए शीघ्र ही टेंडरिंग की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। दो साल के भीतर इस काम को पूरा कर लिया जाएगा। इससे राज्य सरकार के साथ ही आम लोगों को भी फायदा होगा।

 

 

 

 

 

रिपोर्ट- साक्षी सक्सेना

RELATED ARTICLES

*Big Breaking” मोदी सरकार का बड़ा फैसला”, उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को अब 600 रुपये में मिलेगा गैस सिलेंडर; पढ़िए पूरी ख़बर👉….*

बड़ी ख़बर आपको बता दें की केंद्र सरकार ने उज्ज्वला योजना के तहत मिलने वाले गैस सिलिंडर के दाम को 100 रुपए कम किया...

*Private School” में हिन्दू छात्रों से जागरूकता कार्यक्रम के नाम पर पढ़वाई गई नमाज, हिंदू कार्यकर्ताओं ने किया हंगामा; सरकार ने दिए जांच के...

Namaz and ruckus in school.... गुजरात से बड़ी खबर आपको बता दें की यहां एक स्कूल में हिंदू छात्रों से नमाज पढ़वाना भारी पड़...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

*Big Breaking” मोदी सरकार का बड़ा फैसला”, उज्ज्वला योजना के लाभार्थियों को अब 600 रुपये में मिलेगा गैस सिलेंडर; पढ़िए पूरी ख़बर👉….*

बड़ी ख़बर आपको बता दें की केंद्र सरकार ने उज्ज्वला योजना के तहत मिलने वाले गैस सिलिंडर के दाम को 100 रुपए कम किया...

*Video” यहां युवक को Prank” करना पड़ा भारी, Prank से गुस्साए शख्स ने सीने में मार दी गोली; और फिर…..पढ़िए पूरा मामला👉👉*

Shot fired as a joke, young man shot.... प्रैंक करने का जोश और शौक इंसान को मुसीबत में डाल देता है, आपको बता दें...

*Private School” में हिन्दू छात्रों से जागरूकता कार्यक्रम के नाम पर पढ़वाई गई नमाज, हिंदू कार्यकर्ताओं ने किया हंगामा; सरकार ने दिए जांच के...

Namaz and ruckus in school.... गुजरात से बड़ी खबर आपको बता दें की यहां एक स्कूल में हिंदू छात्रों से नमाज पढ़वाना भारी पड़...

Recent Comments

Translate »